Feeds:
Posts
Comments

Greatness of MK Gandhi

 

Are All Religions Same?

Are All Religions Same?

 

From: Pramod Agrawal < > wrote:

“मैंने गांधी को क्यों मारा” – नथ्थुराम गोड़से

 

60 साल तक भारत में प्रतिबंधित रहा नथ्थुराम का अंतिम भाषण “मैंने गांधी को क्यों मारा” ।

अपने मित्रों को बतायें अपने मित्रों को बतायें अपने मित्रों को बतायें ।

30 जनवरी 1948 को नथ्थुराम गोड़से ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी लेकिन नथ्थुराम गोड़से घटना स्थल से फरार नही हुआ बल्कि उसने आत्मसमर्पण कर दिया | नथ्थुराम गोड़से समेत 17 अभियुक्तों पर गांधी जी की हत्या का मुकदमा चलाया गया | इस मुकदमे की सुनवाई के दरम्यान न्यायमूर्ति खोसला से नथ्थुराम ने अपना वक्तव्य स्वयं पढ़ कर जनता को सुनाने की अनुमति माँगी थी जिसे न्यायमूर्ति ने स्वीकार कर लिया था | हालाँकि सरकार ने नथ्थुराम के इस वक्तव्य पर प्रतिबन्ध लगा दिया था लेकिन नथ्थुराम के छोटे भाई और गांधी जी की हत्या के सह-अभियोगी गोपाल गोड़से ने 60 साल की लम्बी कानूनी लड़ाई लड़ने के बाद सुप्रीम कोर्ट में विजय प्राप्त की और नथ्थुराम का वक्तव्य प्रकाशित किया गया | नथ्थुराम गोड़से ने गांधी हत्या के पक्ष में अपनी 150 दलीलें न्यायलय के समक्ष प्रस्तुति की | देसी लुटियंस पेश करते है “नथ्थुराम गोड़से के वक्तव्य के मुख्य अंश” :

  1. नथ्थुराम का विचार था कि गांधी जी की अहिंसा हिन्दुओं को कायर बना देगी |कानपुर में गणेश शंकर विद्यार्थी को मुसलमानों ने निर्दयता से मार दिया था महात्मा गांधी सभी हिन्दुओं से गणेश शंकर विद्यार्थी की तरह अहिंसा के मार्ग पर चलकर बलिदान करने की बात करते थे | नथ्थुराम गोड़से को भय था गांधी जी की ये अहिंसा वाली नीति हिन्दुओं को कमजोर बना देगी और वो अपना अधिकार कभी प्राप्त नहीं कर पायेंगे |

 

  1. साल 1919 को अमृतसर के जलियाँवाला बाग़ गोलीकांड के बाद से पुरे देश में ब्रिटिश हुकुमत के खिलाफ आक्रोश उफ़ान पे था | भारतीय जनता इस नरसंहार के खलनायक जनरल डायर पर अभियोग चलाने की मंशा लेकर गांधी जी के पास गयी लेकिन गांधी जी ने भारतवासियों के इस आग्रह को समर्थन देने से साफ़ मना कर दिया।

 

  1. महात्मा गांधी ने खिलाफ़त आन्दोलन का समर्थन करके भारतीय राजनीति में साम्प्रदायिकता का जहर घोल दिया | महात्मा गांधी खुद को मुसलमानों का हितैषी की तरह पेश करते थे वो केरल के मोपला मुसलमानों द्वारा वहाँ के 1500 हिन्दूओं को मारने और 2000 से अधिक हिन्दुओं को मुसलमान बनाये जाने की घटना का विरोध तक नहीं कर सके |
  2. कांग्रेस के त्रिपुरा अधिवेशन में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को बहुमत से काँग्रेस अध्यक्ष चुन लिया गया किन्तु गांधी जी ने अपने प्रिय सीतारमय्या का समर्थन कर रहे थे | गांधी जी ने सुभाष चन्द्र बोस से जोर जबरदस्ती करके इस्तीफ़ा देने के लिए मजबूर कर दिया |

 

  1. 23 मार्च 1931 को भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को फांसी दे दी गयी | पूरा देश इन वीर बालकों की फांसी को टालने के लिए महात्मा गांधी से प्रार्थना कर रहा था लेकिन गांधी जी ने भगत सिंह की हिंसा को अनुचित ठहराते हुए देशवासियों की इस उचित माँग को अस्वीकार कर दिया।

 

  1. गांधी जी कश्मीर के हिन्दू राजा हरि सिंह से कहा कि कश्मीर मुस्लिम बहुल क्षेत्र है अत: वहां का शासक कोई मुसलमान होना चाहिए | अतएव राजा हरिसिंह को शासन छोड़ कर काशी जाकर प्रायश्चित करने | जबकि हैदराबाद के निज़ाम के शासन का गांधी जी ने समर्थन किया था जबकि हैदराबाद हिन्दू बहुल क्षेत्र था | गांधी जी की नीतियाँ धर्म के साथ, बदलती रहती थी | उनकी मृत्यु के पश्चात सरदार पटेल ने सशक्त बलों के सहयोग से हैदराबाद को भारत में मिलाने का कार्य किया | गांधी जी के रहते ऐसा करना संभव नहीं होता |
  2. पाकिस्तान में हो रहे भीषण रक्तपात से किसी तरह से अपनी जान बचाकर भारत आने वाले विस्थापित हिन्दुओं ने दिल्ली की खाली मस्जिदों में जब अस्थाई शरण ली | मुसलमानों ने मस्जिद में रहने वाले हिन्दुओं का विरोध किया जिसके आगे गांधी नतमस्तक हो गये और गांधी ने उन विस्थापित हिन्दुओं को जिनमें वृद्ध, स्त्रियाँ व बालक अधिक थे मस्जिदों से खदेड़ बाहर ठिठुरते शीत में रात बिताने पर मजबूर किया गया।

 

  1. महात्मा गांधी ने दिल्ली स्थित मंदिर में अपनी प्रार्थना सभा के दौरान नमाज पढ़ी जिसका मंदिर के पुजारी से लेकर तमाम हिन्दुओं ने विरोध किया लेकिन गांधी जी ने इस विरोध को दरकिनार कर दिया | लेकिन महात्मा गांधी एक बार भी किसी मस्जिद में जाकर गीता का पाठ नहीं कर सके |

 

  1. लाहौर कांग्रेस में वल्लभभाई पटेल का बहुमत से विजय प्राप्त हुयी किन्तु गान्धी अपनी जिद के कारण यह पद जवाहरलाल नेहरु को दिया गया | गांधी जी अपनी मांग को मनवाने के लिए अनशन-धरना-रूठना किसी से बात न करने जैसी युक्तियों को अपनाकर अपना काम निकलवाने में माहिर थे | इसके लिए वो नीति-अनीति का लेशमात्र विचार भी नहीं करते थे |

 

  1. 14 जून 1947 को दिल्ली में आयोजित अखिल भारतीय कांग्रेस समिति की बैठक में भारत विभाजन का प्रस्ताव अस्वीकृत होने वाला था, लेकिन गांधी जी ने वहाँ पहुँच कर प्रस्ताव का समर्थन करवाया। यह भी तब जबकि गांधी जी ने स्वयं ही यह कहा था कि देश का विभाजन उनकी लाश पर होगा। न सिर्फ देश का विभाजन हुआ बल्कि लाखों निर्दोष लोगों का कत्लेआम भी हुआ लेकिन गांधी जी ने कुछ नहीं किया |

 

  1. धर्म-निरपेक्षता के नाम पर मुस्लिम तुष्टीकरण की नीति के जन्मदाता महात्मा गाँधी ही थे | जब मुसलमानों ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाये जाने का विरोध किया तो महात्मा गांधी ने सहर्ष ही इसे स्वीकार कर लिया और हिंदी की जगह हिन्दुस्तानी (हिंदी + उर्दू की खिचड़ी) को बढ़ावा देने लगे | बादशाह राम और बेगम सीता जैसे शब्दों का चलन शुरू हुआ |

 

  1. कुछ एक मुसलमान द्वारा वंदेमातरम् गाने का विरोध करने पर महात्मा गांधी झुक गये और इस पावन गीत को भारत का राष्ट्र गान नहीं बनने दिया |13. गांधी जी ने अनेक अवसरों पर शिवाजी, महाराणा प्रताप व गुरू गोबिन्द सिंह को पथभ्रष्ट देशभक्त कहा। वही दूसरी ओर गांधी जी मोहम्मद अली जिन्ना को क़ायदे-आजम कहकर पुकारते थे |

 

  1. कांग्रेस ने 1931 में स्वतंत्र भारत के राष्ट्र ध्वज बनाने के लिए एक समिति का गठन किया था इस समिति ने सर्वसम्मति से चरखा अंकित भगवा वस्त्र को भारत का राष्ट्र ध्वज के डिजाइन को मान्यता दी किन्तु गांधी जी की जिद के कारण उसे तिरंगा कर दिया गया।

 

  1. जब सरदार वल्लभ भाई पटेल के नेतृत्व में सोमनाथ मन्दिर का सरकारी व्यय पर पुनर्निर्माण का प्रस्ताव पारित किया गया तब गांधी जी जो कि मन्त्रीमण्डल के सदस्य भी नहीं थे ने सोमनाथ मन्दिर पर सरकारी व्यय के प्रस्ताव को निरस्त करवाया और 13 जनवरी 1948 को आमरण अनशन के माध्यम से सरकार पर दिल्ली की मस्जिदों का सरकारी खर्चे से पुनर्निर्माण कराने के लिए दबाव डाला।

 

  1. भारत को स्वतंत्रता के बाद पाकिस्तान को एक समझौते के तहत 75 करोड़ रूपये देने थे भारत ने 20 करोड़ रूपये दे भी दिए थे लेकिन इसी बीच 22 अक्टूबर 1947 को पाकिस्तान ने कश्मीर पर आक्रमण कर दिया | केन्द्रीय मन्त्रिमण्डल ने आक्रमण से क्षुब्ध होकर 55 करोड़ की राशि न देने का निर्णय लिया | जिसका महात्मा गांधी ने विरोध किया और आमरण अनशन शुरू कर दिया जिसके परिणामस्वरूप 55 करोड़ की राशि भारत ने पाकिस्तान दे दी ।

महात्मा गांधी भारत के नहीं अपितु पाकिस्तान के राष्ट्रपिता थे जो हर कदम पर पाकिस्तान के पक्ष में खड़े रहे, फिर चाहे पाकिस्तान की मांग जायज हो या नाजायज | गांधी जी ने कदाचित इसकी परवाह नहीं की |

किसी को देश के टुकड़े करने के ,एक समप्रदाय के साथ पक्षपात करने की अनुमति नहीं दे सकता हूँ | गांधी जी की हत्या के सिवा मेरे पास कोई दूसरा उपाय नहीं था |

 

नथ्थुराम गोड़से जी द्वारा अदालत में दिए बयान के मुख्य अंश…..

मेने गांधी को नहीं मारा , मेने गांधी का वध किया हे |

गांधी वध |

वो मेरे दुश्मन नहीं थे परन्तु उनके निर्णय राष्ट्र के लिए घातक साबित हो रहे थे |

जब व्यक्ति के पास कोई रास्ता न बचे तब वह मज़बूरी में सही कार्य के लिए गलत रास्ता अपनाता हे |

मुस्लिम लीग और पाकिस्तान निर्माण की गलत निति के प्रति गांधीजी की सकारात्मक प्रतिक्रिया ने ही मुझे मजबूर किया |

पाकिस्तान को 55 करोड़ का भुकतान करने की गैरवाजिब मांग को लेकर गांधी जी अनशन पर बेठे |

बटवारे में पाकिस्तान से आ रहे हिन्दुओ की आपबीती और दूरदशा ने मुझे हिला के रख दिया था |

अखंड हिन्दू राष्ट्र गांधी जी के कारण मुस्लिम लीग के आगे घुटने टेक रहा था |

बेटो के सामने माँ का खंडित होकर टुकड़ो में बटना |

विभाजित होना असहनीय था |

अपनी ही धरती पर हम परदेशी बन गए थे |

मुस्लिम लीग की सारी गलत मांगो को गांधी जी मानते जा रहे थे |

मेने ये निर्णय किया के भारत माँ को अब और विखंडित और दयनीय स्थिति में नहीं होने देना हे तो मुझे गांधी को मारना ही होगा |

और मेने इसलिए गांधी को मारा…..

मुझे पता हे इसके लिए मुझे फ़ासी होगी | में इसके लिए भी तैयार हु |

और हा यदि मातृभूमि की रक्षा करना अपराध हे तो में यह अपराध बार बार करूँगा |

हर बार करूँगा |

और जब तक सिन्ध नदी पुनः अखंड हिन्द में न बहने लगे तब तक मेरी अस्थियो का विसर्जन नहीं करना |

मुझे फ़ासी देते वक्त मेरे एक हाथ में केसरिया ध्वज और दूसरे हाथ में अखंड भारत का नक्शा हो |

में फ़ासी चढ़ते वक्त अखंड भारत की जय जय बोलना चाहूँगा |

हे भारत माँ !

मुझे दुःख हे में तेरी इतनी ही सेवा कर पाया….

  • नथ्थुराम गोडसे

 

कृपया शेयर जरूर करें ताकि जानकारी सब तक पहुँचाने की. कोशिश करें |

 

From: Parmoad Agrawal < >

श्री राजीव दीक्षित जी के व्याख्यानों

 

स्वदेशी के प्रखर प्रवक्ता, भारत रत्न श्री राजीव दीक्षित जी के 330 घण्टे के व्याख्यानों के नाम व links*

*श्री राजीव दीक्षित जी ने अपने पूरे जीवन मे देश भर मे घूम- घूम कर 5000 से ज्यादा व्याख्यान दिये! सन् 2005 तक वह भारत के पूर्व से पश्चिम, उत्तर से दक्षिण चार बार भ्रमण कर चुके थे !! उन्होने विदेशी कंपनियो की नाक मे दम कर रखा था ! भारत के किसी भी मीडिया चैनल ने उनको दिखाने का साहस नहीं किया !! क्योकि वह देश से जुडे ऐसे मुद्दो पर बात करते थे कि एक बार लोग सुन ले तो देश मे 1857 से बडी क्रांति हो जाती ! वह ऐसे ओजस्वी वक्ता थे जिनकी वाणी पर माँ सरस्वती साक्षात निवास करती थी। जब वे बोलते थे तो स्रोता घण्टों मन्त्र-मुग्ध होकर उनको सुना करते थे ! 30 नवम्बर 1967 को जन्मे और 30 नवंबर 2010 को ही संसार छोडने वाले ज्ञान के महासागर श्री राजीव दीक्षित जी आज केवल आवाज के रूप मे हम सबके बीच जिंदा है उनके जाने के बाद भी उनकी आवाज आज देश के लाखो करोडो लोगो का मार्गदर्शन कर रही है और भारत को भारत की मान्यताओं के आधार पर खडा करने आखिरी उम्मीद बनी हुई है!* ************************************ 1: आज़ादी का असली इतिहास http://www.rajivdixitmp3.com/?p=5 2: आज़ादी के बाद भी चल रही मैकाले की शिक्षण प्रणाली http://www.rajivdixitmp3.com/?p=6 3: आज़ादी के बाद भी गुलामी की निशानियां http://www.rajivdixitmp3.com/?p=7 4: आज़ादी के बाद भी गुलामी की निशानियां (भाग २) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=8 5: आज़ादी के बाद स्वदेशी अपनाने की जरुरत क्यों? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=9 6: आज़ादी नहीं ये धोखा है http://www.rajivdixitmp3.com/?p=10 7: आज़ादी से पहले सदेशी आन्दोलन की लड़ाई http://www.rajivdixitmp3.com/?p=11 8: आपका मांसाहार करना वैश्विक गर्मी का सबसे बड़ा कारण http://www.rajivdixitmp3.com/?p=12 9: आर्थिक गुलामी में धंसता हुआ भारत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=13 10: अर्थव्यवस्था के बर्बाद होने का कारण और निवारण http://www.rajivdixitmp3.com/?p=14 11: अभी भी भारत वैसा ही गुलाम है http://www.rajivdixitmp3.com/?p=15 12: अगर आप कार्य करते है तो आपको किन नियमो का पालन करना चाहिए http://www.rajivdixitmp3.com/?p=16 13: Coke-Pepsi की असलियत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=17 14: अमेरिका का भारत पर आर्थिक प्रतिबन्ध http://www.rajivdixitmp3.com/?p=18 15: आन्दोलन का मीडिया कैसा होगा? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=19 16: अंग्रेज तो चले गए पर अंग्रेजियत नहीं गयी http://www.rajivdixitmp3.com/?p=20 17: अंग्रेजी भाषा की गुलामी http://www.rajivdixitmp3.com/?p=21 18: अंग्रेजी कानून व्यवस्था http://www.rajivdixitmp3.com/?p=22 19: अंतर्राष्ट्रीय संधियों में फंसा भारत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=23 20: हिन्दू विरोधी NGO अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति की असलियत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=24 21: अर्थव्यवस्था में मंदी के कारण और निवारण http://www.rajivdixitmp3.com/?p=25 22: आयुर्वेद जैविक कृषि, काला धन http://www.rajivdixitmp3.com/?p=26 23: आयुर्वेद और राष्ट्रीय समस्याएं http://www.rajivdixitmp3.com/?p=27 24: आयुर्वेद बनाम एलोपैथी http://www.rajivdixitmp3.com/?p=28 25: आयुर्वेदिक चिकित्सा http://www.rajivdixitmp3.com/?p=29 26: आयुर्वेदिक चिकित्सा (भाग २) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=30 27: श्री राम कथा में भारत की समस्याओं का समाधान http://www.rajivdixitmp3.com/?p=31 28: श्री राम कथा में भारत की समस्याओं का समाधान (भाग २) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=32 29: भारत आज़ाद या गुलाम http://www.rajivdixitmp3.com/?p=33 30: भारत और यूरोप की सभ्यता और संस्कृति http://www.rajivdixitmp3.com/?p=34 31: भारत और यूरोप विज्ञान और तकनीक http://www.rajivdixitmp3.com/?p=35 32: भारत और यूरोप की संस्कृति http://www.rajivdixitmp3.com/?p=36 33: भारत देश की व्यथा (हिसार) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=37 34: भारत है कैसा और बनाना कैसा है? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=38 35: भारत का स्वर्णिम अतीत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=39 36: भारत का सांस्कृतिक पतन कैसे हुआ? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=40 37: भारत के किसानो के लिए जैविक खेती का सूत्र (नुस्खा)। http://www.rajivdixitmp3.com/?p=41 38: भारत के किसानो की गुलामी और खेती http://www.rajivdixitmp3.com/?p=42 39: भारत के परमाणु बम से दूसरे देशो को तकलीफ http://www.rajivdixitmp3.com/?p=43 40: भारत की एतिहासिक भूले जो हमें दुबारा नहीं करनी चाहिए http://www.rajivdixitmp3.com/?p=44 41: भारत की दुनिया को देन http://www.rajivdixitmp3.com/?p=45 42: भारत कानून और शिक्षा व्यवस्था http://www.rajivdixitmp3.com/?p=46 43: भारत देश की कथा http://www.rajivdixitmp3.com/?p=47 44: भारत की कृषि http://www.rajivdixitmp3.com/?p=48 45: भारत की लूट और अंग्रेजी कानून http://www.rajivdixitmp3.com/?p=49 46: भारत की मान्यताये और उनके खिलाफ अंग्रेजी कानून http://www.rajivdixitmp3.com/?p=50 47: भारत की संस्कृति और सभ्यता कैसे ख़त्म हो रही है? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=51 48: भारत को आजादी मिली है लेकिन स्वतंत्रता नहीं http://www.rajivdixitmp3.com/?p=52 49: भारत में आतंकवाद और उसका निवारण http://www.rajivdixitmp3.com/?p=53 50: भारत में हुई पहली क्रांति की कहानी http://www.rajivdixitmp3.com/?p=54 51: भारत में मौत का व्यापार http://www.rajivdixitmp3.com/?p=55 52: भारत में नयी व्यवस्था के लिए हमारी लड़ाई http://www.rajivdixitmp3.com/?p=56 53: भारत में स्वराज्य कैसे आएगा? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=57 54: भारत में स्वाइन फ्लू के पीछे का सच http://www.rajivdixitmp3.com/?p=58 55: भारत में विदेशी कम्पनियों की लूट http://www.rajivdixitmp3.com/?p=59 56: भारत पाकिस्तान कारगिल युद्ध और अमेरिका http://www.rajivdixitmp3.com/?p=60 57: भारत स्वदेशी के रास्ते से ही स्वावलंबी बनेगा http://www.rajivdixitmp3.com/?p=61 58: भारत तब और अब http://www.rajivdixitmp3.com/?p=62 59: भारतियों की मानसिक गुलामी http://www.rajivdixitmp3.com/?p=63 60: काला धन स्विस बैंको में और गरीबी http://www.rajivdixitmp3.com/?p=64 61: भारत से प्रतिभा पलायन http://www.rajivdixitmp3.com/?p=65 62: चार्टड अकाउंटेंट, स्वदेशी भारत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=66 63: सभी शीतल पेयो की असलियत http://www.rajivdixitmp3.com/?p=67 64: CTBT और भारतीय अस्मिता http://www.rajivdixitmp3.com/?p=68 65: दातुन बनाम दंतमंजन http://www.rajivdixitmp3.com/?p=69 66: दुनिया के दुसरे देशो में क्रांति http://www.rajivdixitmp3.com/?p=70 67: भारत स्वाभिमान आन्दोलन http://www.rajivdixitmp3.com/?p=71 68: इंग्लैंड की महारानी की भारत यात्रा http://www.rajivdixitmp3.com/?p=72 69: एक सच जो आपकी आँखे खोल देगा http://www.rajivdixitmp3.com/?p=73 70: परिवार नियोजन कैसे करे http://www.rajivdixitmp3.com/?p=74 71: भाजपा सरकार के समय insurance में FDI http://www.rajivdixitmp3.com/?p=75 72: गर्भपात एक पाप http://www.rajivdixitmp3.com/?p=76 73: GATT समझौते का भारत की अर्थव्यवस्था पर असर http://www.rajivdixitmp3.com/?p=77 74: GATT समझौता http:/www.rajivdixitmp3.com/?p=78 75: गौ आधारित कृषि और धर्म http://www.rajivdixitmp3.com/?p=79 76: गौ हत्या और उसको रोकने के उपाय http://www.rajivdixitmp3.com/?p=80 77: गौ हत्या की राजनीती और प्रधान न्यायालय में लड़ाई http://www.rajivdixitmp3.com/?p=81 78: गौ हत्या का इतिहास http://www.rajivdixitmp3.com/?p=82 79: Globalization Banking Gulbarga Jan-2005 by Rajiv Dixit http://www.rajivdixitmp3.com/?p=83 80: कीमती आभूषणों पर हालमार्क : एक साजिश http://www.rajivdixitmp3.com/?p=84 81: भूमंडलीकरण और उदारीकरण द्वारा भारत की अर्थव्यवस्था का विनाश http://www.rajivdixitmp3.com/?p=85 82: गौरक्षा और उसका महत्त्व http://www.rajivdixitmp3.com/?p=86 83: स्वास्थ्य: आयुर्वेद और होम्योपैथी ६ घंटे http://www.rajivdixitmp3.com/?p=87 84: स्वास्थ्य: १ घंटा http://www.rajivdixitmp3.com/?p=88 85: स्वास्थ्य: भारत बनाम यूरोप २ घंटे http://www.rajivdixitmp3.com/?p=89 86: Health lecture 7 Hour At Pune (स्वास्थ्य: ७ घंटे) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=90 87: Health Lecture 10 hour At चैन्नई (स्वास्थ्य: १० घंटे) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=91 88: Health Lecture 11 hour At chennai (११ घंटे) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=92 89: स्वास्थ्य http://www.rajivdixitmp3.com/?p=93 90: स्वास्थ्य: शराब, गुटका, धुम्रपान कैसे छोड़े? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=94 91: स्वास्थ्य: नाडी परिक्षण महत्वपूर्ण http://www.rajivdixitmp3.com/?p=95 92: बहुत सारे रोगों के लिए स्वास्थ्य युक्तियाँ http://www.rajivdixitmp3.com/?p=96 93: हिंदी भाषा का महत्त्व http://www.rajivdixitmp3.com/?p=97 94: आदोलन काम कैसे करे? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=98 95: कैसे TV और विज्ञापन आपका दिमाग कुंद कर रहे है? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=99 96: कैसे बहुदेशीय कंपनियों से लड़े http://www.rajivdixitmp3.com/?p=100 97: अवैध खनन और उपाय http://www.rajivdixitmp3.com/?p=101 98: भारत का अज्ञात इतिहास और वर्तमान समस्याएं http://www.rajivdixitmp3.com/?p=102 99: भारत और यूरोप की सभ्यता http://www.rajivdixitmp3.com/?p=103 100: आयोडीन युक्त नमक कभी न खाए http://www.rajivdixitmp3.com/?p=104 101: जन-मन-गन बनाम वन्दे मातरम http://www.rajivdixitmp3.com/?p=105 102: जैविक खेती कैसे करे? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=106 103: जीवन जीने की कला http://www.rajivdixitmp3.com/?p=107 104: बच्चों को कैसी शिक्षा दी जाये? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=108 105: कार्यकर्ताओं को क्या करना होगा? http://www.rajivdixitmp3.com/?p=109 106: कश्मीर समस्या और समाधान http://www.rajivdixitmp3.com/?p=110 107: क्रांति होने के कुछ उदाहरण http://www.rajivdixitmp3.com/?p=111 108: Lecture At Andhrapardesh http://www.rajivdixitmp3.com/?p=112 109: Lecture At Bathinda Punjab http://www.rajivdixitmp3.com/?p=113 110: Lecture At Bemetara Chhattisgarh http://www.rajivdixitmp3.com/?p=114 111: Lecture At Bhopal http://www.rajivdixitmp3.com/?p=115 112: Lecture At Biaora Rajgarh http://www.rajivdixitmp3.com/?p=116 113: Lecture At Bicholim Goa http://www.rajivdixitmp3.com/?p=117 114: Lecture At Bilaspur CG(Low Quality) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=118 115: Lecture At Budge Budge kolkata http://www.rajivdixitmp3.com/?p=119 116: Lecture At Delhi http://www.rajivdixitmp3.com/?p=120 117: Lecture At Dewas 6-April-2010 http://www.rajivdixitmp3.com/?p=121 118: Lecture At Janjgir Champa CG http://www.rajivdixitmp3.com/?p=122 119: Lecture At Madurai http://www.rajivdixitmp3.com/?p=123 120: Lecture At Mungeli CG http://www.rajivdixitmp3.com/?p=124 121: Lecture At Pipariya http://www.rajivdixitmp3.com/?p=125 122: Lecture At Ponda Goa(Low Quality) http://www.rajivdixitmp3.com/?p=126 123: Lecture At Raigarh(Low Quality). http://www.rajivdixitmp3.com/?p=127 124: Lecture At Sakti CG http://www.rajivdixitmp3.com/?p=128

सुलेमान नहीं सुधरेगा

चुनाव हिन्दुस्तान में है या पाकिस्तान मे

From: Mohan Tatarajan < >

 

TREACHERY OF OMAR ABDULLAH

AND HIS MUSLIMS DELEGATION

———————————————————————————–

Hindus were the original inhabitants of the valley. Muslims were the invaders.

Omar and Farook encouraged the massacre and ethnic cleansing of Hindus

in Kashmir. NC AND CONGRESS, despite ruling J&K for decades, did not

find any solution to the Kashmir problem. NOW WHY OMAR WANTS

A POLITICAL SOLUTION WITHOUT EXPLAINING, WHAT SORT OF

POLITICAL SOLUTION.

 

Omar should be booked for sedition and must be put behind bars for anti-national

activities. He can be given a choice. Pakistan was created exclusively for

Muslims and Omar and his entire family, can emigrate to Pakistan and enjoy

Hindu free life. He acts like a traitor and a quisling.

 

Our country is paying the price for not listening to Ambedkar. At the time

of partition, Ambedkar told Gandhi to send back all Muslims to Pakistan for

he felt that Muslims can never co-exist with Hindus. How prophetic Ambedkar

was. Now we are paying the price for our pusillanimity.

 

Huntington said that Muslims can never co-exist with other religionists. Prithipal Singh of the Alberta University, Canada said THAT MUSLIMS WILL ALWAYS LIVE AS AN OPPRESSIVE MAJORITY AND A TURBULENT MINORITY.

Omar and others are proving him right.

 

Our government should tell Pakistan, Omar, Farook and other Muslims leaders in congress THAT A SOLUTION TO KASHMIR PROBLEM CAN BE FOUND IF PAKISTAN TAKES BACK* ALL MUSLIMS FROM INDIA (1947, Pakistan was created exclusively for Muslims and because of Gandhi’s stupidity, we are getting cut in every place by the secular Muslims) and THEY CAN SEND BACK ALL HINDUS TO INDIA.

 

In this way, Pakistan can be happy to be free from Hindu devils AND INDIA CAN BE DOUBLY HAPPY WITHOUT THE TROUBLE OF MUSLIM ANGELS.

 

*Skanda987’s comment: Why request, suggest, or ask Pak to do it? To talk like that is weakness. Bhaarat needs to send back or send to haven all the invaded Muslims in Kashmir without any declaration or hint about the action, which must start suddenly and finish complexly quickly. Bhaarat need not worry about the world opinion. When Paki illegally occupied Kashmir, the world did not car, nor the UN. When Russia occupied Cremia, the world did not care. We do not need anyone’s permission or support to get back what is ours. – Skanda987

 

Follow

Get every new post delivered to your Inbox.